Thursday, May 30, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडराष्ट्रीय पोषण अभियान के समापन अवसर पर कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने...

राष्ट्रीय पोषण अभियान के समापन अवसर पर कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने महिलाओं को बांटी महालक्ष्मी, गोदभराई और स्वच्छता किट

हल्द्वानी- राष्ट्रीय पोषण अभियान का समापन राजकीय प्राथमिक विद्यालय देवपुर कुरियागांव में सोमवार को जनपद प्रभारी एवं महिला सशक्तिकरण बाल विकास एवं खेल मंत्री रेखा आर्या द्वारा किया गया।
इस अवसर पर जनपद प्रभारी मंत्री रेखा आर्या द्वारा 2 अक्टूबर गांधी जयन्ती एवं लाल बहादुर शास्त्री जयन्ती के उपलक्ष्य पर प्रतिमाओ पर पुष्प अर्पित किये गये। कार्यक्रम में महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास द्वारा अभिप्रेरणा पुस्तक का विमोचन भी किया गया।
कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री द्वारा महालक्ष्मी किट 20, गोद भराई किट 08, स्वच्छता किट 10 एवं सिलाई प्रशिक्षण प्रमाण पत्र 300 महिलाओं को दिये गये।
अपने सम्बोधन में मंत्री आर्या ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास की स्थापना पर सभी को बधाई दी। साथ ही राज्य आन्दोलनकारी जो आज ही के दिन शहीदों हो गये थे, उनकी शहादत पर श्रद्धासुमन अर्पित किये। उन्होेंने कहा कि कुपोषण की लड़ाई के लिए उत्तराखण्ड में कुपोषित बच्चों को पोषण आहार दिया जा रहा है। इसके माध्यम से हमारी सरकार उत्तराखण्ड को रजत जयन्ती समारोह के उपलक्ष्य पर कुपोषण मुक्त राज्य बनायेंगे इसके लिए हम सभी को सहयोग देना होगा तभी हम कुपोषित मुक्त राज्य बना सकेते हैं।

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री मातृवन्दना योजना के अन्तर्गत महिलाओं को प्रथम बच्चे के जन्म के अवसर पर 5 हजार रूपये दिये जा रहे हैं जिससे जच्चा व बच्चा स्वस्थ्य रहे। उन्होंने कहा प्रदेश सरकार द्वारा 6000 लोंगों को महालक्ष्मी किट प्रसव के उपरान्त दिये गये है। इससे गरीब जनमानस अपने बच्चे और बच्चे की माता का सर्वांगीण विकास हो सके सरकार इसके लिए तत्पर है। उन्होने कहा महालक्ष्मी किट के साथ-साथ गौराधन योजना के अन्तर्गत कन्या के जन्म पर 11 हजार की धनराशि दी जाती है। उन्होंने कहा उत्तराखण्ड राज्य जब रजत जयन्ती समारोह मनायेगा तब उत्तराखण्ड का लडके और लडकियों का लैंगिक अनुपात बराबर होगा। इसके लिए समाज के सभी लोगों का सहयोग आवश्यक होगा तभी हम बालक और बालिकाओं के अनुपात को बराबर कर सकते है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश मे खेल को लेकर सरकार गम्भीर है, मेडल जीतकर आने वाले खिलाडियों के नगद पुरस्कार मे बढोत्तरी कर दी है। उन्होंने कहा जो खिलाडी राष्टीय एवं अन्तर्राष्टीय स्तर पर खेलते हैं उन्हें सरकार 4 प्रतिशत आरक्षण देगी। उन्होंने कहा आज का समय खेल व शिक्षा का है। मंत्री श्रीमती आर्या ने कहा कि खेल में खिलाडी अपनी प्रतिभा देकर आर्थिकी अर्जित कर सकता है। उन्होने कहा प्रदेश सरकार ने खेल छात्रवृत्ति बढाकर 1500 कर दी है। मंत्री आर्या ने सभी प्रदेश वासियो से अपील की है कि खेल महाकुम्भ चल रहा है सभी अभिभावक अपने बच्चों को प्रतिभाग करने के लिए प्रेरित करें। इस अवसर पर आगनबाडी कार्यकत्रियों द्वारा स्टाल भी लगाये गये।कार्यक्रम में अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया, अध्यक्ष दुग्ध संघ मुकेश बोरा, समीर आर्य, ब्लाक प्रमुख रूपा देवी, ब्लाक प्रमुख धारी आशा रानी, पार्षद प्रमोद तोलिया, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास अधिकारी शिल्पी जोशी, पूनम रौतेला, ग्राम प्रधान ज्योति, नरेन्द्र मेहरा, दिनेश प्रसाद, त्रिवेणी ग्वाल के साथ ही आंगनबाडी कार्यकत्री उपस्थित थी।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें