Tuesday, April 23, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeराजनीतिजमीयत उलेमा ए हिंद की देवबंद में बैठक, ज्ञानवापी मस्जिद, ताजमहल और...

जमीयत उलेमा ए हिंद की देवबंद में बैठक, ज्ञानवापी मस्जिद, ताजमहल और मथुरा मस्जिद विवाद पर कल चर्चा

शनिवार को सहारनपुर के देवबंद में जमीयत उलेमा ए हिंद की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमे अध्यक्ष मौलाना महमूद मदनी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जो फैसला लेंगे, फिर उससे पीछे नहीं हटेंगे। इस दौरान भावुक भी हुए।
उन्होंने कहा कि, हमें हमारे ही देश में अजनबी बना दिया गया है. लेकिन जो एक्शन प्लान वो लोग तैयार कर रहे हैं, उस पर हमें नहीं चलना है। मौलाना मदनी ने कहा कि, जिस तरह की चीजें हो रही हैं उसके लिए मुस्लिमों को जेल भरने के लिए तैयार रहना चाहिए । मदनी ने कहा कि हम किसी एक्शन प्लान पर नहीं चलेंगे।हालात मुश्किल हैं. लेकिन, इस समय भी मायूसी की जरूरत नहीं है। हम जुर्म सह लेंगे लेकिन देश पर आंच नहीं आने देंगे हम हर चीज से समझौता कर सकते हैं, पर देश से नहीं। इस बात को हर किसी को समझने की जरूरत है तो ये फैसला कमजोरी की वजह से नहीं है, बल्कि जमीयत-उलमा की ताकत की वजह है। ये ताकत हमें कुरान ने दी है. हम हर चीज से समझौता कर सकते हैं, अपने ईमान से समझौता नहीं कर सकते हैं।कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए मौलाना मदनी ने कहा कि मुल्क के हालात और उस पर सरकारों की खामोशी अफसोसनाक है।यह स्थिति बदलनी चाहिए. देश की चिंता करने वाले, फिक्र करने वाले लोग हैं, उन्हें इस स्थिति को संभालना होगा. मुल्क में जो बांटने वाला वातावरण है, उसे खत्म करना होगा। कहा कि नफरत के खेल को बंद करना और करवाना होगा। मौलाना ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो जमीयत जेल भरने के लिए भी तैयार है साथ ही, उन्होंने कहा कि ज्ञानवापी मस्जिद, ताजमहल और मथुरा मस्जिद विवाद पर कल चर्चा होगी।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें