Thursday, May 30, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडवीपीडीओ भर्ती घोटाले पांच आरोपी दबोचे, एसटीएफ की रडार में बोर्ड कार्यालय का एक कर्मचारी 

वीपीडीओ भर्ती घोटाले पांच आरोपी दबोचे, एसटीएफ की रडार में बोर्ड कार्यालय का एक कर्मचारी 

वीपीडीओ भर्ती घोटाले में काशीपुर से नैनीताल कोर्ट के कर्मी की गिरफ्तारी के बाद अब तक जिले से पांच आरोपी दबोचे हैं। काशीपुर का ही रहने वाला एक और सरकारी कर्मी और रामनगर स्थित उत्तराखंड बोर्ड कार्यालय के एक कर्मचारी भी एसटीएफ की रडार पर है।
 
पेपर लीक मामले में रविवार तक ऊधमसिंह नगर जिले से चार गिरफ्तारी की जा चुकी थीं। इनमें सितारगंज से कोर्ट का कनिष्ठ सहायक मनोज जोशी, किच्छा के एक निजी स्कूल का शिक्षक गौरव नेगी, काशीपुर एएसपी का गनर अमरीश कुमार और काशीपुर से ही दीपक शर्मा शामिल हैं। अमरीश और दीपक से पूछताछ के बाद काशीपुर के जसपुर खुर्द निवासी महेंद्र सिंह चौहान का नाम सामने आया।
 
सोमवार को एसटीएफ ने महेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। महेंद्र नैनीताल सीजेएम कोर्ट में कनिष्ठ सहायक है। महेंद्र घोटाले में गिरफ्तार होने वाला 12वां आरोपी है। मामले में अब तक काशीपुर से तीन गिरफ्तारी हो चुकी हैं।
 
15-15 लाख रुपये वसूले थे
महेंद्र ने पूछताछ में अमरीश और दीपक संग  पेपर लीक की बात कबूल की है। लीक पेपर हासिल करने वाले हर अभ्यर्थी से 15-15 लाख रुपये की रकम वसूली गयी। बताया जा रहा है कि काशीपुर, जसपुर और यूपी के भी कुछ युवकों को पेपर दिये गये। इनकी संख्या 15 से 20 के बीच हो सकती है।
सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें