Sunday, February 25, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeअन्यबेनीताल में भारत के पहले 'एस्ट्रो कैंप' का हुआ आयोजन

बेनीताल में भारत के पहले ‘एस्ट्रो कैंप’ का हुआ आयोजन

गोपेश्वर: बेनीताल को भारत के पहले एस्ट्रो विलेज के रूप में विकसित करने की योजना के तहत बेनीताल में एक ‘एस्ट्रो कैंप’ आयोजित किया गया।

जिला प्रशासन चमोली स्टारस्केप्स के सहयोग से एक एस्ट्रो कैंप और बेनीताल एस्ट्रो पार्टी के दूसरे एडिशन की मेजबानी कर रहा है। एस्ट्रो पार्टी 19 मई से शुरू हो गई है जो 21 मई तक चलेगी।

जिलाधिकारी हिमांशु खुराना ने कहा कि बेनीताल को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। पर्यटन क्षेत्र में एस्ट्रो गेजिंग,स्टार गेजिंग विकसित की जा रही है। उन्होंने कहा कि आसपास के ज्यादा से ज्यादा लोग इसमें जुड़े जिससे यह पर्यटन के साथ साथ आजीविका का स्रोत बनकर निकले।

खुराना ने आगे बताया कि इसका काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला है काफी संख्या में बाहरी राज्यों के भी काफी पर्यटक यहां आए हुए हैं। यह ईवेंट स्टारगेजिंग, एस्ट्रो फोटोग्राफी, सौर अवलोकन, एस्ट्रोनॉमी तंबोला, रॉकेटरी मेकिंग, नक्षत्र दर्शन आदि जैसी गतिविधियों के साथ विजिटर्स को खगोल विज्ञान का अविस्मरणीय अनुभव प्रदान करेगा।

यह समुद्र तल से 2500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। न्यूनतम मानवीय गतिविधियां और प्रकाश का कम प्रदूषण, इसे डार्क स्काई पार्क के लिए एक आदर्श स्थान बनाते हैं।

स्टारस्केप्स के संस्थापक रामाशीष रे ने कहा कि हम बेनीताल एस्ट्रो कैंप की मेजबानी के लिए चमोली जिला प्रशासन के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हैं। पिछले साल हमारी पहली एस्ट्रो पार्टी की सफलता के बाद हमने कई नए एस्ट्रो टूरिज्म अनुभवों को क्यूरेट किया है, जो विजिटर्स को एक जगमगाती रात के आकाश के जादू का अनुभव करने का शानदार अवसर देते हैं। बेनीताल एस्ट्रो कैंप पर्यटकों और खगोल विज्ञान के प्रति उत्साही लोगों के लिए रात के आकाश की सुंदरता का पता लगाने का एक अनूठा अवसर है। साथ ही क्षेत्र में स्थायी पर्यटन के विकास का समर्थन भी करता है।”

एस्ट्रो कैंप गतिविधियों में सूर्य का कुछ ऐसा नजारा देखें जैसा पहले कभी नहीं देखा, स्पेशल एच-अल्फा फिल्टर वाले टेलिस्कोप्स से सोलर सरफेस और सोलर प्रोमिनेंस का अवलोकन करें। साथ ही बेहतर व्यू के लिए टीवी स्क्रीन पर लाइव कवरेज देखें, नाइट स्काई वंडर्स के तहत परिसर में रखे टेलीस्कोप्स से चंद्रमा, ग्रहों और गहरे आकाश की चीजों जैसे आकाशीय पिंडों की मंत्रमुग्ध कर देने वाली सुंदरता को निहारें, एक्सपर्ट एस्ट्रोफोटोग्राफर से रात के आसमान की अद्भुत तस्वीरें लेने की कला सीखें और ब्रह्मांड की सुंदरता को कैप्चर करें।

मजेदार और इंटरेक्टिव गतिविधियों के साथ खगोल विज्ञान की आकर्षक दुनिया को एक्सप्लोर करें। जिसमें रॉकेटरी-मेकिंग, एस्ट्रोनॉमी तंबोला, मिस्ट्री स्टार आइडेंटिफिकेशन, कैच द मीटियोर गेम, मैग्नेटिज्म मेज गेम और नक्षत्र दर्शन शामिल हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें