Saturday, June 15, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeशिक्षानैनीताल: मूल्यांकन कार्य में लापरवाही बरतने पर 67 शिक्षकों को मुख्य शिक्षा...

नैनीताल: मूल्यांकन कार्य में लापरवाही बरतने पर 67 शिक्षकों को मुख्य शिक्षा अधिकारी ने जारी किया नोटिस

हल्द्वानी: बोर्ड परीक्षा समाप्त होने के बाद अब परीक्षा कॉपियों की मूल्यांकन का कार्य रविवार से शुरू हो गई है. मूल्यांकन कार्य में शिक्षकों द्वारा लापरवाही बरती गई है. 67 शिक्षक मूल्यांकन के कार्य से नदारद रहे. जिसके बाद मुख्य शिक्षा अधिकारी नैनीताल ने लापरवाही बरतने वाले सभी 67 शिक्षकों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

रविवार से हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के बोर्ड परीक्षाओं के कॉपियों का मूल्यांकन कार्य शुरू हो गया है. नैनीताल जिले में हल्द्वानी में दो मूल्यांकन केंद्र बनाए गए हैं, जहां कॉपियों का मूल्यांकन कार्य शुरू हुआ है. पहले दिन में 67 शिक्षक गैरहाजिर मिले. सभी को मुख्य शिक्षा अधिकारी नैनीताल केएस रावत ने नोटिस जारी किया है. उत्तराखंड बोर्ड की ओर से हल्द्वानी के राजकीय बालिका इंटर कॉलेज और एमबी इंटर कॉलेज को मूल्यांकन केंद्र बनाया गया है. दोनों केंद्रों पर 67 शिक्षक नदारद पाए गए.

बोर्ड परीक्षा में मूल्यांकन कार्य में लापरवाही बरतने पर मुख्य शिक्षा अधिकारी ने नाराजगी जाहिर करते हुए सभी अनुपस्थित शिक्षकों को नोटिस जारी कर कल सुबह 10 बजे तक जवाब मांगा है. मौके पर नदारद पाए गए शिक्षकों जब फोन से जानकारी मांगी गई तो गायब शिक्षक अपना-अपना तर्क देते नजर आए. मुख्य शिक्षा अधिकारी केएस रावत ने बताया शासकीय कार्य में इस तरह की लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी. सभी अनुपस्थित शिक्षकों को सोमवार को तलब किया गया है.उन्होंने बताया कई शिक्षकों ने बोर्ड से ड्यूटी कटवाने और बीमारी का हवाला दिया है. इन सभी अनुपस्थित शिक्षकों की जांच की जा रही है. नोटिस का संतोषजनक जवाब न मिलने पर उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी.

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें