Thursday, April 18, 2024
No menu items!
Google search engine
- Advertisement -spot_imgspot_img
Homeअपराधहल्द्वानी ममता हत्याकांड! पुलिस ने किया पुलिसकर्मी की पत्नी की दिनदहाड़े हुई...

हल्द्वानी ममता हत्याकांड! पुलिस ने किया पुलिसकर्मी की पत्नी की दिनदहाड़े हुई हत्या का खुलासा, एक आरोपी गिरफ्तार

हल्द्वानी के मुखानी थाना क्षेत्र के अंतर्गत कालिका कॉलोनी में बदमाशों ने घर में घुसकर एक पुलिसकर्मी की पत्नी की दिनदहाड़े धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी थी। जिस मामले में पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार कर लूटा गया सामान बरामद किया है।
सोमवार को मामले का खुलासा करते हुए डीआईजी कुमाऊं डॉ. नीलेश आनंद भरणे ने बताया की बीती 3 नवंबर को एक 17 वर्षीय बालक कपिल बिष्ट द्वारा थाना मुखानी मे सूचना दी गयी कि उसके घर का लॉकर टूटा हुआ है तथा उसकी माँ कहीं दिखाई नहीं दे रही है। जिसपर पुलिस तत्काल किशोर के घर पहुंची तो देखा की उसकी मां का खून से लथपथ शव रसोई में पड़ा हुआ था। जिसके बाद रमेश सिंह बोहरा थानाध्यक्ष मुखानी, भूपेन्द्र सिंह धौनी क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी, हरबंस सिंह एस0पी0 सिटी हल्द्वानी, डॉ0 जगदीश चन्द्र एस0पी0 अपराध/यातायात नैनीताल तथा डॉग स्क्वॉड एवं फोरैन्सिक टीम के साथ घटना स्थल पर पहुँचकर साक्ष्य जुटाएं।
जिसके बाद मृतका ममता के पति शंकर सिंह बिष्ट की तहरीर पर मुखानी थाना पुलिस ने धारा 302/394 के तहत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज़ कर जांच शुरु कर दी।
जिसपर हत्या का खुलासा करने के लिए गठित टीम ने संदिग्धों से पूछताछ, सीसीटीवी कैमरों का अवलोकन, सुसंगत तथ्यों एवं साक्ष्यों के आधार पर 39 वर्षीय अशरफ उर्फ भूरा पुत्र अब्दुल नवी निवासी- 88 सुनेरी, वार्ड नं0- 15 किच्छा उधमसिंह नगर व हाल निवासी नई बस्ती किच्छा उधमसिंह नगर को वार्ड नं0-11, नई बस्ती नूरी मस्जिद के पास किच्छा से गिरफ्तार किया गया।
जिसके पास से पुलिस को खून के धब्बे लगा एक हथौड़ा, खून लगा हुए आरोपी के जीन्स व कमीज तथा जूते, मोटर साईकिल हीरो स्प्लैण्डर प्लस तथा हैलमेट।
इसके साथ ही घर का लॉकर तोड़ कर चोरी किए गए कान के झुमके, लॉकेट, 01 सोने का गलोबन्द, 01 सोने का मंगलसूत्र व 03 हजार रूपये नकदी बरामद हुई है।
पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया की लगभग ढेड से 02 वर्ष पूर्व उसने आरक्षी शंकर सिंह बिष्ट के घर पर ग्रिल का काम किया था। उसे मालूम था कि उसकी पत्नी भी अकेले ही घर पर रहती है। उसे पता था कि उसे देखकर पुलिसकर्मी की पत्नी उसे अपने घर में आने देगी। बताए की वह कर्ज में डूब गया था जिस कारण उसने पैसे जुटाने के लिये वादी के घर में लूट की योजना बनाकर अपनी मोटर साईकिल की पहचान बदलकर व नम्बर प्लेट मे कपडा बांध कर अपने जेब में एक हथोडा लेकर गया। लूट करने के लिये उसके द्वारा वादी की पत्नी से अन्य जगह ग्रिल लगाने के लिये ग्रिल की फोटो खीचने व पानी पीने का बहाना बनाकर अपने जेब में रखे हथोडे से मृतका ममता के सिर पर पीछे से हथोडे से लगातार वार कर मौत के घाट उतार दिया और लॉकर तोड़ घर से जेवरात व नगदी लूट कर फरार हो गया।

पुरस्कार की घोषणा-
हत्या एवं लूट की घटना का अनावरण करने एवं आरोपियों को गिरफ्तारी करने में लगी पुलिस टीमों के द्वारा उक्त घटना का त्वरित एवं सुस्पष्ट अनावरण हेतु पुलिस के अधिकारियों एवं महानुभावों द्वारा पुलिस टीमों के उत्साहवर्धन हेतु निम्नानुसार पुरस्कार की घोषणा की गयी है।
1-अशोक कुमार पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड – 01 लाख रुपये।
2- नीलेश आनन्द भरणे पुलिस उप-महानिरीक्षक-50 हजार रुपये।
3- पंकज भट्ट एस0एस0पी0 नैनीताल-25 हजार रुपये।
4- बंशीधर भगत, विधायक कालाढूंगी विधानसभा-21 हजार रुपये।
5- जोगेन्द्र रौतेला महापौर हल्द्वानी-11 हजार रुपये।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें